Archive for the ‘Hindi Poems’ Category

आज की रात भगवान् से मुलाकात

Thursday, August 11, 2011 11:44 1 Comment

आज रात दिनांक १० जुलाई २००४ की रात्री मन बहुत उद्वेलित था. सारी रात नींद नहीं आई व् रोता रहा. सुबह ४.३० बजे एहसास हुआ यदि मैं नहीं सो पाया तो मेरे ठाकुर जी भी नहीं सोये. मेरे साथ-२ वे भी रोते रहे तभी यह भाव मेरे मन में आया ! सारी रात अगर मैं […]

This was posted under category: Hindi Poems

सपना मेरा बिखर गया

Wednesday, July 20, 2011 17:32 No Comments

सपना मेरे बिखर गया टूट जब शिखर गया जो शिखर मैंने बनाया था संसार से दुःख भगाया था खुशियो की बरसात हो कहीं न दुःख संताप हो   कोई अमीर – कोई गरीब ये न कभी सोचा था सभी सुखी हो – सभी निरोगी ऐसा भाव बनाया था   सब और हरियाली थी सब तरफ […]

This was posted under category: Hindi Poems, Poetries